US ने किया Beijing में होने वाले विंटर ओलिंपिक में भारत के बहिष्कार के फैसले का समर्थन


Winter Olympics: आज से शुरू हो रहे बीजिंग शीतकालीन ओलिंपिक (Beijing Olympics) का भारत ने राजनयिक बहिष्कार करने का फैसला किया है. दरअसल भारत ने गुरुवार को ऐलान किया कि वो उद्घाटन और समापन समारोह में आधिकारिक रूप से प्रतिनिधित्व नहीं करेगा. 
वहीं इस फैसले का समर्थन करते हुए अब अमेरिकी सीनेट विदेश संबंध समिति के अध्यक्ष ने कहा, ‘मैं बीजिंग ओलंपिक के राजनयिक बहिष्कार में शामिल होने के लिए भारत की सराहना करता हूं. हम उन सभी देशों के साथ खड़े हैं जो CCP के मानवाधिकारों के हनन और ओलंपिक 2022 को राजनीतिक जीत में बदलने के प्रयास को खारिज करते हैं.”
 

“I applaud India for becoming a member of diplomatic boycott of the Beijing Olympics. We stand with all international locations that reject the CCP’s heinous human rights abuses & cold-blooded effort to show Olympics 2022 right into a political victory lap,” says Chairman, US Senate International Relations Committee. pic.twitter.com/LoLcl2FyLC
— ANI (@ANI) February 4, 2022

चीनी कमांडर होंगे ओलंपिक में टॉर्च बियरर
मिली जानकारी के अनुसार इस फैसले के पीछे की वजह गलवान घाटी में भारतीय सेना और चीनी सेना के बीच झड़प में शामिल एक चीनी कमांडर को ओलंपिक में टॉर्च बियरर बनाया जाना है. भारत का मानना है कि ऐसा करना खेलों को राजनीतिक रंग देने की कोशिश है जिसे भारत बढ़ावा नहीं देना चाहता है. दरअसल चीनी मीडिया के तरफ से समारोह के उद्घाटन से एक दिन पहले बताया गया कि इस गेम में टॉर्च बियरर गलवन घाटी में घायल पीएलए के रिजिटेंड कमांडर शी फबाओ होंगे.
रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन शामिल
एक तरफ जहां उद्घाटन समारोह में भारत के करीबी सहयोगी रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन शामिल हो रहे हैं. वहीं भारत अमेरिका सहित कईं देशों ने चीन के बीजिंग ओलंपिक का बहिष्कार किया है. हालांकि उन देशों के एथलीट इस प्रतियोगिता में भाग ले रहे हैं. 
ये भी पढ़ें:
हमले के बाद Asaduddin Owaisi की सिक्योरिटी बढ़ाई गई, सरकार ने दी Z कैटेगरी की सुरक्षा’
कैप्टन अमरिंदर सिंह नहीं होंगे गठबंधन का चेहरा, बीजेपी ने साफ की स्थिति
 
 
.